Explained: What is Metaverse ? In Hindi/English Allinfomationhere.co.in

Metaverse क्या है अर्थ तथा इसकी विशेषताएं What is Metaverse Meaning and Its Characteristics

Explained: What is Metaverse ? In Hindi/English Allinfomationhere.co.in
Explained: What is Metaverse ? In Hindi/English Allinfomationhere.co.in 


टेक्नोलॉजी की दुनिया में आए दिन कुछ न कुछ नए अविष्कार होते रहते हैं।  हाल ही में टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में 'मेटावर्स' नाम की चर्चा हो रही है।  इस प्लेटफॉर्म से सोशल मीडिया भी जुड़ा हुआ है और कुछ समय पहले आपने देखा होगा कि फेसबुक ने अपना नाम बदलकर मेटा कर लिया है।  लेकिन, फेसबुक ने अपना नाम मेटा क्यों बदला और मेटावर्स क्या है?  यह सवाल हम सभी के मन में उठता है।


In the world of technology, some new inventions keep happening every day.  Recently, the name 'Metaverse' is being discussed in the field of technology.  Social media is also associated with this platform and some time ago you must have seen that Facebook changed its name to Meta.  But, why did Facebook change its name to Meta and what is Metaverse?  This question arises in the mind of all of us.

फेसबुक कंपनी के मालिक मार्क जुकरबर्ग फेसबुक को सोशल मीडिया तक सीमित नहीं रखना चाहते हैं।  वह चाहता है कि एक आभासी दुनिया बनाई जाए और हम सब उसमें वैसे ही रह सकें जैसे हम वास्तविक दुनिया में रहते हैं।  इस प्रोजेक्ट को पूरा करने के लिए फेसबुक ने 10,000 लोगों को हायर करने की घोषणा की है, साथ ही फेसबुक मेटावर्स कंपनी में 50 मिलियन डॉलर का निवेश करेगी।

Facebook company owner Mark Zuckerberg does not want to limit Facebook to social media.  He wants that a virtual world should be created and we will all be able to live in it in the same way as we live in the real world.  To complete this project, Facebook has announced to hire 10,000 people, in addition, Facebook will invest $ 50 million in the Metaverse company.

तो आइए अब जानते हैं कि मेटावर्स क्या है, मेटावर्स की दुनिया क्या होगी और मेटावर्स के फायदे और नुकसान क्या हैं।  इसके साथ ही हम आपको Metaverse से जुड़ी अन्य जानकारियां भी उपलब्ध कराएंगे।  यदि आप नेटवर्क के बारे में सभी जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो लेख को अंत तक अवश्य पढ़ें।

So let us now know what is Metaverse, what will be the world of Metaverse and what are the advantages and disadvantages of Metaverse.  Along with this, we will also provide you with other information related to Metaverse.  If you want to get all the information about the network then definitely read the article till the end.

Metaverse क्या है ? What Is Metaverse  In Hindi/English


मेटावर्स एक ऐसी दुनिया है जिसका कोई अंत नहीं है।  यानी यह एक अंतहीन, सीमाओं से परे आभासी दुनिया होगी जो हमें इंसानों को वास्तविक दुनिया की तरह एक आभासी दुनिया में रहने का मौका देगी।  मेटावर्स वर्चुअल रियलिटी, ऑगमेंटेड रियलिटी, मशीन लर्निंग, आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, सोशल मीडिया, गेमिंग, सोशल लाइफ, डेली लाइफ का मिश्रण है

The Metaverse is a world that has no end.  That is, it will be an endless, beyond boundaries virtual world that will give us humans a chance to live in a virtual world like the real world.  Metaverse is a mix of Virtual Reality, Augmented Reality, Machine Learning, Artificial Intelligence, Social Media, Gaming, Social Life, Daily Life.

फेसबुक कंपनी के संस्थापक मार्क जुकरबर्ग द्वारा एक प्लेटफॉर्म विकसित किया जा रहा है, जो सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म को उन्नत स्तर पर उपयोग करने का अवसर प्रदान करेगा, जहां कोई वस्तु नहीं होगी और वास्तविकता जैसी कोई चीज नहीं होगी लेकिन उन सभी को।  चीजें उतनी ही वास्तविक होंगी जितनी हम सभी इसे महसूस करते हैं जैसा हम अपने वास्तविक जीवन में महसूस करते हैं।

A platform is being developed by Facebook company founder Mark Zuckerberg, which will provide an opportunity to use the social media platform at an advanced level, where there will be no object and there will be no such thing as reality but all of them.  Things will be as real we all feel it as we feel in our real life.

सरल भाषा में मेटावर्स के माध्यम से हम उस आभासी दुनिया में जीवन जीने में सक्षम होंगे जो हम वास्तविक दुनिया में रहते हैं।  मेटावर्स एक तरह का वर्चुअल कम्युनिटी है जिसके जरिए हम दुनिया भर के लोगों से मिल सकते हैं, एक साथ खा-पी सकते हैं, एक साथ खेल सकते हैं और एक साथ काम कर सकते हैं।  यह एक प्रकार की तकनीक है जो आभासी दुनिया और वास्तविक दुनिया के बीच के अंतर को काफी कम कर देगी।  यह तकनीक वर्चुअल रियलिटी और ऑगमेंटेड रियलिटी पर आधारित है।

In simple language, through the metaverse, we will be able to live the life in the virtual world that we live in the real world.  Metaverse is a kind of virtual community through which we can meet people from all over the world, eat and drink together, play together and work together.  This is a type of technology that will greatly reduce the difference between the virtual world and the real world.  This technology is based on Virtual Reality and Augmented Reality.

Metaverse का हिंदी अर्थ ( Metaverse Meaning In Hindi)


मेटावर्स दो शब्दों मेटा + पद्य से बना है, जहाँ मेटा का अर्थ है 'परे' और पद्य ब्रह्मांड शब्द से लिया गया है।  जिसका अर्थ है 'ब्रह्मांड'।

Metaverse is made up of two words Meta+Verse, where Meta means 'Beyond' and Verse is derived from the word Universe.  Which means 'Universe'.

इस प्रकार Metaverse का हिंदी में अर्थ है 'ब्रह्मांड से परे'।  यह शब्द बताता है कि भविष्य में इंटरनेट और इससे जुड़ी चीजें कैसी होने वाली हैं।

In this way the meaning of Metaverse in Hindi is 'Beyond Universe'.  This word shows how the Internet and things related to it are going to be in the future.

Metaverse शब्द की उत्पत्ति कैसे हुई ( How The Term Metaverse Originated )


एक अमेरिकी विज्ञान कथा उपन्यासकार नील स्टीफेंसन ने अपने उपन्यास "स्नो क्रैश" में पहली बार मेटावर्स शब्द का इस्तेमाल किया।  इस उपन्यास में उन्होंने दिखाया कि कैसे लोग अपनी वास्तविक दुनिया से आभासी दुनिया में प्रवेश करते हैं।

Neil Stephenson, an American science fiction novelist, used the term metaverse for the first time in his novel "Snow Crash".  In this novel, he showed how people enter the virtual world from their real world.

यह उपन्यास 1992 में प्रकाशित हुआ था। विज्ञान कथा से जुड़ी चीजों के बारे में जानने के लिए लोग आज भी इस उपन्यास को पढ़ना पसंद करते हैं।  इसके साथ ही इस उपन्यास में विज्ञान के अलावा क्रिप्टोकरेंसी, धर्म और दर्शन और कंप्यूटर से जुड़ी बातें भी बताई गई हैं।

This novel was published in 1992.  To know about things related to science fiction, people still like to read this novel.  Along with this, apart from science, things related to cryptocurrencies, religion and philosophy and computers have also been told in this novel.

फेसबुक का नया नाम क्या है ? What is the new name of Facebook

मार्क जुकरबर्ग ने 28 अक्टूबर 2021 को फेसबुक का नाम बदलकर मेटा कर दिया। वह कई महीनों से मेटावर्स पर अपने भाषण और साक्षात्कार में कह रहे थे कि वह फेसबुक को रीब्रांड करना चाहते हैं यानी फेसबुक को सोशल मीडिया नेटवर्क से एक अलग तरह की कंपनी मेटावर्स कंपनी में बदलना चाहते हैं।

Mark Zuckerberg renamed Facebook as Meta on 28 October 2021.  He had been telling in his speech and interview on Metaverse for several months that he wants to rebrand Facebook i.e. changing Facebook from social media network to a different kind of company Metaverse company.

आपने देखा होगा कुछ समय पहले Google ने Alphabet के नाम से अपनी पैरेंट कंपनी बनाई थी।  उसी तरह फेसबुक ने एक पैरेंट कंपनी मेटा बनाई है और उसके अंदर फेसबुक, व्हाट्सएप, इंस्टाग्राम जैसी सभी कंपनियां काम करेंगी।

You must have seen some time ago, Google had made its parent company in the name of Alphabet.  In the same way, Facebook has created a parent company Meta and within that all companies like Facebook, WhatsApp, Instagram will work.

मार्क जुकरबर्ग का इस कंपनी को बनाने का केवल एक ही उद्देश्य है कि वह केवल सोशल मीडिया तक ही सीमित नहीं रहना चाहते, वह मेटावर्स की तकनीक का पता लगाना चाहते हैं जो वर्चुअल रियलिटी पर आधारित है।

Mark Zuckerberg has only one purpose to create this company that he does not want to be limited to social media only, he wants to explore the technology of Metaverse which is based on virtual reality.

Metaverse आप हमारे जीवन में कब तक प्रवेश करेगा


मेटावर्स कब हमारे जीवन में आएगा इसकी अभी पुष्टि नहीं हुई है, अनुमान लगाया जा रहा है कि इसे बनने में कुछ साल लग सकते हैं।  हालाँकि, ऑनलाइन खेले जाने वाले खेलों में यह तकनीक कुछ हद तक आ गई है, जो काफी नहीं है, मेटावर्स आपकी सोच से परे है।

  फेसबुक के सीईओ मार्क जुकरबर्ग ने मेटावर्स को संभव बनाने के लिए 50 मिलियन डॉलर खर्च करने की बात कही है और फेसबुक कंपनी ने इस प्रोजेक्ट के लिए 10,000 तकनीकी इंजीनियरों को काम पर रखा है।

Metaverse when will enter in our life


When the Metaverse will come to our lives has not been confirmed yet, it is being estimated that it may take a few years to build.  However, this technology has come to some extent in the games played online, which is not enough, the metaverse is beyond your thinking.

Facebook CEO Mark Zuckerberg has talked about spending $ 50 million to make the Metaverse possible, and the Facebook company has hired 10,000 technical engineers for this project.

Metaverse दिखने में कैसा होगा ?


मेटावर्स की 3डी तकनीक जैसे प्लेटफॉर्म पर, हम अपने स्वयं के अवतार बनाने में सक्षम होंगे जो बिल्कुल हमारे जैसे दिखते हैं और हमारे जैसे ही दिखने वाले हैं, और हम अपने द्वारा बनाए गए अन्य अवतारों से वस्तुतः कनेक्ट होने में सक्षम होंगे।  .

  मेटावर्स का रूप वर्चुअल होगा लेकिन ऐसा लगेगा जैसे हम वास्तविक दुनिया में एक जगह बैठकर गतिविधियां कर रहे हैं न कि सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर।

What Will The Metaverse Look Like


On platforms like Metaverse's 3D technology, we'll be able to create our own avatars that look exactly like us and have the same physical appearance as us, and we'll be able to virtually connect to other avatars we've created.  .

The form of the metaverse will be virtual but it will appear as if we are doing activities sitting together in one place in the real world and not on social media platforms.

Metaverse कि 3D दुनिया कैसी होगी?


Hollywood फिल्म अवतार तो हम सभी ने देखा ही होगा, फिल्म अवतार में मेटावर्स की 3डी दुनिया को बखूबी दिखाया गया है।  इस तकनीक को हकीकत में लाने के लिए हॉस्पिटैलिटी, टेलीकॉम, बैंकिंग, हार्डवेयर, सॉफ्टवेयर आदि जैसे कई सेक्टर की कंपनियों को एक साथ मिलकर एक इको सिस्टम विकसित करना होगा, तभी यह तकनीक काम में आएगी।

What Would The 3D World Of The Metaverse Be Like


We all must have seen the Hollywood movie Avatar, the 3D world of Metaverse has been shown well in the movie Avatar.  To bring this technology into reality, companies from many sectors such as hospitality, telecom, banking, hardware, software, etc. will have to develop an eco system together, then this technology will be usable.

Metaverse से हमारे जीवन में क्या बदलाव आएगा ?


आज के समय में हर व्यक्ति का जीवन यथार्थवादी ढंग से व्यतीत हो रहा है।  मेटावर्स तकनीक से आज केवल आभासी दुनिया की कल्पना की जा रही है।  इस तकनीक के बारे में बताया जा रहा है कि आदमी घर बैठे अपनी पसंद की हर चीज पर जाकर दुनिया में अपनी पसंद की किसी भी जगह पर जाकर लाइव एन्जॉय कर सकेगा.

मेटावर्स को एक आभासी दुनिया माना जाता है क्योंकि उनके आने के बाद उनकी पसंदीदा चीज उनके सामने मौजूद होगी।  आज के दौर में हम वीडियो कॉल से लंच ऑनलाइन लाइव शो लेते हैं।  इस तकनीक के आने के बाद हम उनका जीवन अलग तरीके से बिताएंगे।

इस तकनीक के माध्यम से डिजिटल कपड़ों का युग भी दिखाई देगा, जिसका अर्थ है कि आप शारीरिक रूप से अपने घर में बैठे होंगे लेकिन डिजिटल उपकरणों की मदद से आपको आभासी दुनिया में घुमाया जाएगा।

वर्तमान समय में इन बातों की कल्पना करना थोड़ा अजीब लगेगा, लेकिन, यह संभव हो सकता है।  जब हमारे बीच इंटरनेट नहीं था, तो हमारे लिए यह कल्पना भी करना थोड़ा मुश्किल था कि हम एक देश में बैठकर दूसरे देश के व्यक्ति से बात कर सकते हैं।  लेकिन, आज ये सब चीजें इंटरनेट के जरिए संभव हैं, तो उसी तरह मेटावर्स हमारे जीवन में कई बदलाव लाएगा।

How Will The Metaverse Change Our Lives


In today's time, every person's life is being spent in a realistic way.  Today only the virtual world is being imagined with the Metaverse technology.  It is being told about this technology that man will be able to enjoy live by visiting every thing of his choice sitting at home and visiting any place of his choice in the world.

Metavers are considered to be a virtual world because after their arrival, their favorite thing will be present in front of them. In today's era, we take a luncheon online live show from the video call. After the arrival of this technique, we will spend their life differently.

Through this technology, the era of digital clothing will also be seen, which means that you will be physically sitting in your home but with the help of digital devices you will be rotated in the virtual world.

It would seem a bit strange to imagine about these things in the present time, but, it can be possible.  When there was no internet between us, it was a bit difficult for us to even imagine that we could sit in one country and talk to a person from another country.  But, today all these things are possible through internet, so in the same way Metaverse will bring many changes in our life.

Metaverse का एहसास कैसा रहेगा


देखा जाए तो मेटावर्स और कुछ नहीं बल्कि सोशल मीडिया का एक उन्नत रूप है।  हम सभी सोशल मीडिया नेटवर्किंग वेबसाइट जैसे इंस्टाग्राम, फेसबुक, व्हाट्सएप, एक-दूसरे से चैटिंग, एक-दूसरे को वीडियो कॉल करने पर क्या करते हैं।  हम सभी ने जूम या गूगल मीट पर मीटिंग की होगी, वहां हमें पता चलता है कि सामने वाला व्यक्ति कैमरे के सामने है, हमारे पास नहीं है, लेकिन मेटावर्स इस समस्या को हल कर देगा।

  हम सभी ने कई साइंस फिक्शन फिल्में देखी होंगी जहां मेटावर्स का कॉन्सेप्ट देखा जाता है।  आने वाले समय में जब मेटावर्स हम सबके बीच होगा तो हम सिर्फ एक हेडफोन पहनकर वर्चुअल दुनिया में जा सकेंगे।

  यह एक प्रकार की कंप्यूटर जनित दुनिया होगी जहाँ हम अपना दैनिक कार्य करेंगे, हालाँकि कार्य की कुछ सीमाएँ भी होंगी।  एहसास होगा।

How The Metaverse Feel


If seen, the metaverse is nothing but an advanced form of social media.  What we all do on all social media networking websites like Instagram, Facebook, WhatsApp, chatting with each other, making video calls to each other.  We all must have had a meeting on Zoom or Google Meet, there we know that the person in front is across from the camera, we do not have it, but Metaverse will solve this problem.

We all must have seen many science fiction movies where the concept of metaverse is seen.  In the coming times, when the metaverse will be among all of us, then we will be able to go into the virtual world wearing only one headphone.



It will be a kind of computer-generated world where we will do our daily work, although there will be some limitations of the work.  Will realize.

Metaverse के वास्तविक जीवन उदाहरण


अब हम मेटावर्स के कुछ ऐसे उदाहरणों से गुजरेंगे जहां हमने इस तकनीक का इस्तेमाल पहले देखा है।  वर्तमान में इस तकनीक का उपयोग एपिक और फ़ोर्टनाइट गेम जैसे ऑनलाइन गेम में किया जा रहा है, जहाँ गेमर आभासी दुनिया में जाकर गेम खेलता है, हाल ही में एपिक गेम्स ने एक संगीत संगीत कार्यक्रम की मेजबानी की जिसमें लोगों ने आभासी दुनिया को खेला।  इस तरह से भाग लिया जिसका अर्थ है कि लोग अपने कार्यालय और घर पर आयोजित होने वाले संगीत समारोहों का आनंद ले रहे थे।

  रेडी प्लेयर वन जो एक बहुत लोकप्रिय उपन्यास है।  इस उपन्यास की कहानी में मेटावर्स की दुनिया को भी दर्शाया गया है, इसके अलावा इस उपन्यास पर एक हॉलीवुड फिल्म भी बनाई गई है।

Metaverse Real Life Examples


Now we will go through some such examples of metaverse where we have seen this technique being used before.  Currently this technology is being used in online games such as Epic and Fortnite games, where the gamer plays the game by going to the virtual world, most recently Epic Games hosted a music concert in which people played the virtual world.  Participated in a manner that means that people were enjoying the concerts being held in their office and at home.

Ready Player One which is a very popular novel.  The story of this novel also depicts the world of Metaverse, apart from this a Hollywood film has also been made on this novel.

Metaverse से क्या कोई खतरा है


पिछले कुछ दिनों में प्राइवेसी को लेकर सरकार और फेसबुक/ट्विटर के बीच कई मुद्दे खड़े हुए हैं.  ऐसे में जब बात वर्चुअल दुनिया की आती है तो सबसे पहले निजता को लेकर कई सवाल दिमाग में आते हैं, हर व्यक्ति अपनी निजता की रक्षा करना चाहता है, कोई भी व्यक्ति नहीं चाहेगा कि कोई दूसरा व्यक्ति उसकी निजता का उल्लंघन करे।

  मेटावर्स एक ऐसी तकनीक है जहां आभासी और वास्तविक दुनिया में कोई अंतर नहीं होगा।  ऐसे में, यह एक सर्वविदित तथ्य है कि जब प्रौद्योगिकी का इतना व्यापक रूप से उपयोग किया जाएगा, तो गोपनीयता का जोखिम न केवल बढ़ेगा, कंपनी हमारी निजी बातचीत और व्यक्तिगत डेटा को नियंत्रित करने में सक्षम होगी।

Are There Any Dangers From The Metaverse


In the last few days, many issues have arisen between the government and Facebook / Twitter regarding privacy.  Thus, when it comes to the virtual world, first of all, many questions come to the mind regarding privacy, every person wants to protect his privacy, no person would want any other person to violate his privacy.

Metaverse is the technology where there will be no difference between the virtual and real world.  In such a situation, it is a well-known fact that when technology is used so widely, the risk of privacy will not only increase, the company will be able to control our private conversations and personal data.

Metaverse की विशेषताएं और फायदे


हमारे जीवन में आने से हमें Metaverse के कुछ फायदे मिलेंगे जो इस प्रकार हैं:-

•   मेटावर्स के माध्यम से, हम वस्तुतः अपने रिश्तेदारों और दोस्तों के साथ मिल सकेंगे।

•   इसकी मदद से हम किसी भी वर्चुअल कंसर्ट में जा सकते हैं, किसी भी तरह की यात्रा कर सकते हैं, आर्टवर्क देख सकते हैं और बना सकते हैं, इसके अलावा बिजनेस करना और मीटिंग अटेंड करना काफी हद तक आसान हो जाएगा।  यह मेटावर्स के माध्यम से संभव होगा।

•   इसकी मदद से हम वर्चुअल लाइफ और रियल लाइफ के बीच के सही अंतर को समझ पाएंगे।

•   मेटावर्स इंटरनेट का एक तरह का अपडेटेड वर्जन है, जिसकी मदद से हम वर्चुअल दुनिया में एक-दूसरे से दूर होते हुए भी छू सकते हैं, महसूस कर सकते हैं, हाथ मिला सकते हैं, जिससे वर्चुअल दुनिया की दूरी पूरी तरह से दूर हो जाती है।  असली दुनिया।  क्या होगा।

•   इस वर्चुअल तकनीक के जरिए व्यक्ति ऑनलाइन प्लेटफॉर्म के जरिए हर तरह के उपकरण यहां तक ​​कि घर और कार जैसी चीजें भी खरीद सकेगा।

Metaverse Featuresand Benefit


By coming into our life, we will get some benefits of Metaverse which are as follows:-

•  Through Metaverse, we will be able to virtually get together with our relatives and friends.

•  With the help of this, we can go to any virtual concert, do any kind of travel, view and create artwork, apart from this, doing business and attending meetings will be easy to a great extent.  This will be possible through the metaverse.

•  With the help of this, we will understand the true difference between virtual life and real life.

•  Metaverse is a kind of updated version of the Internet, with the help of which we can touch, feel, shake hands in the virtual world even when we are away from each other, so that the distance of the virtual world is completely removed from the real world.  Will happen.

•  Through this virtual technology, a person will be able to buy all kinds of devices, even things like home and car, through online platforms.

Metaverse के नुकसान


जब भी कोई नई तकनीक का आविष्कार होगा, जहां हमें उसका पूरा लाभ मिलेगा, भविष्य में उसके हानिकारक प्रभाव भी सामने आएंगे।  लोग अपना अधिकांश दिन इसी में व्यतीत करेंगे, निजी जीवन में लोगों के बीच दूरियां बनी रहेंगी।  इसके अलावा और भी कई खतरनाक प्रभाव देखने को मिलेंगे।

Disadvantages Of Metaverse


Whenever any new technology is invented, where we will get full benefit from it, its harmful effects will also come to the fore in future.  People will spend most of their day in this, there will be distance between people in their personal life.  Apart from this, many more dangerous effects will be seen.

Metaverse की चुनौतियां


मेटावर्स का निर्माण चुनौतियों से भरा होगा।  हमारे पास वर्तमान समय में इस तकनीक के लिए जिस तरह के बुनियादी ढांचे की जरूरत है, वह हमारे पास नहीं है।

  आज के समय में इस्तेमाल किया जाने वाला इंटरनेट एक डिजाइन तक सीमित है।  मेटावर्स के लिए हमें इंटरनेट स्पीड बढ़ानी होगी।  आज के समय में फास्ट नेटवर्क के रूप में केवल 4G ही उपलब्ध है, जब मेटावर्स में लाखों-करोड़ों लोग एक साथ मिल रहे होंगे या गेम खेल रहे होंगे तो सब कुछ संभालना थोड़ा मुश्किल होगा।

  मेटावर्स को बढ़ाने के लिए हमें 6G की जरूरत पड़ेगी।  इंटरऑपरेबल मेटावर्स के इस्तेमाल से डेटा सुरक्षा से जुड़े सवाल भी उठेंगे।  डेटा सुरक्षा के लिए भी उपयोगकर्ताओं की सहमति की आवश्यकता होगी।  संचार, कर रिपोर्टिंग, नियामक प्रवर्तन को नियंत्रित करने और ऑनलाइन कट्टरता को रोकने के लिए मेटावर्स को नए नियमों की आवश्यकता होगी।

Metaverse Challenges


Building the metaverse will be full of challenges.  We do not have the kind of infrastructure needed for this technology at the present time.

The internet used in today's time is limited to one design.  For metaverse we have to increase internet speed.  In today's time only 4G is available as a fast network, when millions and millions of people in the metaverse will be meeting or playing games together then it will be a little difficult to handle everything.

To increase the metaverse, we will need 6G.  The use of interoperable metaverses will also raise questions related to data security.  Data security will also require the consent of the users.  The metaverse will need new rules to control communications, tax reporting, regulatory enforcement, and prevent online radicalization.

Metaverse मैं कौन सी कंपनियां कार्य कर रही है


मेटावर्स एक आभासी दुनिया है, जिसे बनाने के लिए Google, Microsoft, NVIDIA, Fortnite, Roblox Crop जैसी कई तकनीकी कंपनियां इस तकनीक को विकसित करने के लिए मिलकर काम कर रही हैं।  एपिक गेम्स ने मेटावर्स की स्थापना के लिए $ 1 बिलियन जोड़ा।

Which Companies Are Working In Metaverse


Metaverse is a virtual world, to create which many technology companies such as Google, Microsoft, NVIDIA, Fortnite, Roblox Crop are working together to develop this technology.  Epic Games added $1 billion to fund the founding of the Metaverse.

आज आपने क्या सीखा ?


तो दोस्तों आज हमने आपको बताया कि Metaverse क्या है और यह कैसे Work करता है और यह हमारे जीवन में किस तरह बदलाव ला सकता है तो दोस्तों अगर आपको हमारा यह लेख पसंद आया हो तो हमारे इस लेख को अपने दोस्तों के साथ शेयर कीजिएगा और अपने सोशल मीडिया अकाउंट पर भी शेयर कीजिएगा और अगर आपको कोई सवाल पूछना हो तो आप कमेंट करके पूछ सकते हैं मिलते हैं अगले लेख में.

धन्यवाद.


What Did You Learn Today ?


So friends, today we told you what is Metaverse and how it works and how it can bring change in our life, so friends, if you liked this article of ours, then share this article with your friends and share it with your friends.  Will share on social media account also and if you have any question, you can ask by commenting, see you in the next article.

Thanks.

Comments

Popular posts from this blog

क्रिप्टो करेंसी क्या है ? what is cryptocurrency ?

What Is Computer Network कंप्यूटर नेटवर्क क्या होता है In English | In Hindi

20 Health And Nutrition Tips / 20 स्वास्थ्य और पोषण युक्तियाँ